दिल्ली सरकार बुजुर्गों को मुफ्त में करा रही तीर्थयात्रा, 12 जुलाई से होगी शुरुआत

योजना की जानकारी

  • तीर्थयात्रा पर यात्रियों को ले जाने वाली सभी ट्रेनें वातानुकूलित होंगी।
  • 71 साल या इससे अधिक उम्र के यात्री अपने साथ अटेंडेंट भी ले जा सकेंगे।
  • इस योजना में हर तीर्थ यात्री का एक लाख रुपए का बीमा भी कराया जाएगा।

दिल्ली में रहने वाले वरिष्ठ नागरिकों के लिए मुख्यमंत्री तीर्थयात्रा योजना इसी महीने 12 जुलाई से शुरू होने जा रही है। पहले कॉरिडोर में दिल्ली-अमृतसर, बाघा बॉर्डर और आनंदपुर साहिब को पहली ट्रेन 12 जुलाई को जाएगी, जो 16 को वापस आएगी। यह ट्रेन सफदरजंग रेलवे स्टेशन से शाम 7 बजे जाएगी। पहली यात्रा अमृतसर-बाघा-आनंदपुर साहिब की होगी। योजना के अंतर्गत सरकार 77,000 वरिष्ठ नागरिकों को मुफ्त में तीर्थाटन कराएगी। जो 3 दिन और 2 रात की इस यात्रा में एक ट्रिप में करीब 1000 यात्री जाएंगे। यात्रियों को ले जाने वाली सभी ट्रेन वातानुकूलित होंगी।

तीर्थ यात्रा से जुड़ी खास बातें

20 जुलाई को दूसरी ट्रेन माता वैष्णो देवी के दर्शन कराने लेकर जाएगी

ट्रेन 16 जुलाई को दिल्ली आ जाएगी। दूसरी ट्रेन जम्मू वैष्णो देवी की 20 जुलाई को जाएगी और 24 जुलाई को वापस आएगी। यात्रियों को एसएमएस कर जानकारी दे दी गई है। गुरुवार को मुख्यमंत्री तीर्थयात्रा पर जानेवालों से मिलेंगे। 

5 रूट किए गए हैं तय 

सरकार ने मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना की शुरुआत में दिल्ली से पांच रूट तय किए गए हैं- मथुरा-वृंदावन, हरिद्वार-ऋषिकेश-नीलकंठ, पुष्कर-अजमेर, अमृतसर-बाघा-आनंदपुर साहिब और वैष्णो देवी-जम्मू। बता दें कि हाल ही में सीएम अरविंद केजरीवाल राजधानी के वरिष्ठ नागरिकों के लिए ‘मुख्यमंत्री तीर्थयात्रा योजना’ को लॉन्च किया था। 


तीर्थ यात्रा योजना के लिए क्या है योग्यता

आवेदक दिल्ली का स्थायी निवासी हो। तीर्थयात्रा योजना में लाभ उठाने के लिए उम्र 60 साल या अधिक हो। हर वरिष्ठ नागरिक के साथ 18 साल या उससे अधिक उम्र का एक सहायक तीर्थ यात्रा पर जा सकता है।

– सरकारी अधिकारी और एम्पलॉई तीर्थ यात्रा योजना में भाग नहीं ले सकते। एक सीनियर सिटीजन अपने जीवन में एक बार ही तीर्थ यात्रा योजना का लाभ ले सकते हैं।

लाडली योजना दिल्ली

– बुजुर्ग नागरिक की सालाना आय 3 लाख रुपए से कम होनी चाहिए। 71 साल या इससे अधिक उम्र के लोगों को इसमें 21 साल तक के एक अटेंडेंट ले जाने की भी सुविधा होगी। सभी ट्रेन वातानुकूलित होंगी।

आवेदन करने की प्रक्रिया

सभी आवेदन पत्र ऑनलाइन भरे जाएंगे। आवेदन पत्र डिविजनल कमिश्नर ऑफिस, संबंधित विधायक के ऑफिस या तीर्थ यात्रा कमेटी के ऑफिस से भरे जाएंगे। लॉटरी ड्रॉ से लाभार्थियों का चयन किया जाएगा। संबंधित विधायक सर्टिफाई करेंगे कि व्यक्ति दिल्ली का नागरिक है।