गृहणी सुविधा योजना क्या है?

गृहणी सुविधा योजना का शुभारंभ किया था। योजना के तहत राज्य के सभी गरीब परिवारों को दो साल के भीतर गैस कनेक्शन देने की घोषणा की गई है। दो साल के दौरान एक लाख परिवारों को इस योजना का लाभ दिया जाना है।

यह भी पढे :- जन आधार कार्ड योजना राजस्थान

पहले साल में 33500 गैस कनेक्शन देने की बात कही गई। योजना के तहत उन लोगों को भी लाभ दिया जाना है जिनको अभी तक प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तहत शामिल नहीं किया है। गृहणी सुविधा योजना के तहत एलपीजी कनेक्शन और गैस चूल्हा निशुल्क मुहैया करवाया जाएगा। राज्य सरकार ने इसके लिए 12 करोड़ रुपये के बजट का प्रावधान किया है। 

गृहणी सुविधा योजना के लिए योग्यता

  • हिमाचल प्रदेश राज्य के वे सभी घर जिनके पास एलपीजी कनेक्शन नहीं है, साथ ही वे लोग जो प्रधानमंत्री द्वारा शुरू की गई ‘प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना’ का लाभ लेने में असमर्थ थे|
  • वे इस योजना का हिस्सा बनने के लिए योग्य हैं|
  • परंतु उन लोगो का बीपीएल के दायरे मे होना आवश्यक हैं|

गृहणी सुविधा योजना के लाभ

  • हिमाचल प्रदेश की सरकार गरीब परिवारों को एलपीजी गैस एवं गैस स्टोव प्राप्त करने के लिए सुरक्षा राशि प्रदान करेगी|
  • गैस सिलिंडर की सप्लाई के लिए खाद्य एवं आपूर्ति विभाग द्वारा एक फोकल प्लांट का निर्माण किया जायेगा. इसके जरिये लाभार्थी को गैस सिलेंडर दिया जायेगा|
  • इससे सिलेंडर को ढोने में आसानी के साथ – साथ किसी भी प्रकार का अतिरिक्त शुल्क नहीं लगेगा|
  • इस योजना के अंतर्गत, गैस सिलेंडर की सुरक्षा के लिए 1600 रूपये के साथ – साथ रेगुलेटर, गैस पाइप, 2 बर्नर वाला गैस एवं अगले गैस सिलेंडर के लिए 600 रूपये आदि सरकार द्वारा लाभार्थी को दिया जायेगा. यह सामान वे अपने पास की गैस एजेंसी से प्राप्त कर सकेंगे|
  •  यह योजना महिलाओं द्वारा उपयोग में लाने वाले ईंधन एवं लकड़ी के संग्रह की आवश्यकताओं में रोक लगाएगी|

यह भी पढे :- राजस्थान दीनदयाल उपाध्याय वरिष्ठ नागरिक तीर्थ यात्रा योजना

हिमाचल गृहणी सुविधा योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन

  • इसके लिए आपको ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर क्लिक करना होगा|
  • दोस्तों अब आपके लिए एक एप्लीकेशन फॉर्म खुलेगा |
  • इस एप्लीकेशन फॉर्म को डाउनलोड करके सारी जानकारी भरिए |
  • ध्यान रहे जो भी जानकारी भर रही हो वह बिल्कुल सही सही होनी चाहिए |
  • अब अब सबमिट बटन पर क्लिक करें|

यह भी पढे :- मूल निवास प्रमाण पत्र कैसे बनवाएं