संपूर्ण पोषण बनाए संतान को चैंपियन

द्वितीय संतान  के समय गर्भवती और धात्री महिलाओं को ₹6000 की वित्तीय सहायता

5 किस्तों में सहायता राशि का प्रावधान

  • पहली किश्त:- द्वितीय संतान  के समय प्रथम गर्भावस्था जांच व पंजीकरण होने पर 120 दिवस में ₹1000
  • दूसरी किस्त :-दो प्रसव पूर्व जांच पूरी होने पर गर्भावस्था के 6 माह के भीतर
  • तीसरी किस्त:- बच्चे के जन्म पर संस्थागत प्रसव पर रुपए 1000
  • चौथी किस्त:- 3/2  माह तक के सभी नियमित टीके लग जाने व नवजात के जन्म पंजीकरण होने पर ₹2000
  • पाँचवी किस्त:- द्वितीय संतान  के उपरांत स्थाई परिवार नियोजन साधन/कॉपर टी लगवाने पर ₹1000

वित्तीय सहायता दूसरी बार गर्भवती एवं धात्री महिलाओं को बेहतर पोस्टिक आहार प्राप्त करने में मदद करेगी

इन क्षेत्रो में होगा इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना  का योजना:-

योजना क्षेत्र उदयपुर:- प्रतापगढ़, बांसवाड़ा, व डूंगरपुर

(महिला एवं बाल विकास विभाग राजस्थान)