प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना 2020 में कोरोना वायरस महामारी के कारण से राहत पैकेज के एवज में घोषित की गयी है जिसके तहत नरेंद्र मोदी वाली केंद्र सरकार 80 करोड़ गरीब लोगों को मुफ्त में (3 महीने तक और उसके बाद सस्ते दामों पर) अनाज, चावल और दालें मुहैया करवाएगी।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना | Pradhan Mantri Garib Kalyan Yojana (PMGKY) | Corona Relief Package 2020

Pradhan Mantri Garib Kalyan Yojana (PMGKY)2020 : प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना भारत सरकार द्वारा देश के गरीब लोगो को लाभ पहुंचाने के लिए चलाई गई एक Sarkari योजना है।

इस नयी प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत केंद्र सरकार ने देश में चल रहे कोरोना VIRUS (कोविड-19) के संकट के चलते लोगों को राहत देते हुए देश में नागरिकों के लिए 1.70 लाख करोड़ रुपए के राहत पैकेज की घोषणा कर दी है।प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना  2020 के तहत लॉकडाउन की स्थिति में लोगों को राहत पहुंचाई जायेगी। 1.70 लाख करोड़ रुपये के पैकेज से देश में हर तबके को प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत सहायता दी जाएगी और सरकार इस महामारी से निपटने के लिए हर संभव प्रयास कर रही है।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना 2020 आवेदन / रजिस्ट्रेशन / लिस्ट की जानकारी

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना 2020 में नागरिकों को खाने-पीने के सामान के साथ-साथ अन्य सेवायें और सुविधाएं भी मिलेंगी जिससे कोरोना वायरस (कोविड-19) के चलते लॉकडाउन की स्थिति को लोगों के लिए आसान बनाया जा सके। पीएम गरीब कल्याण योजना 2020 | Pradhan Mantri Garib Kalyan Yojana से देश में 80 करोड़ लोगों को सीधा लाभ मिलेगा जिसमें सस्ती दरों पर अन्न शामिल है।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना क्या है?

वित्त मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना से 80 करोड़ लोगों को सस्ती दरों पर अनाज मिलेगा। केंद्र सरकार ने कहा कि कोरोना वायरस की वजह से कोई भी गरीब खाने-पीने की चीजों को लेकर चिंता न करे। गरीब लोगों को 3 महीने तक 5-5 किलो अनाज मुफ्त में मिलेगा। इसके साथ उनको एक किलो दाल भी मुफ्त में दी जाएगी। गेहूं, चावल के साथ दाल भी गरीबों को पहुंचाई जाएगी। इसके साथ ही प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत गरीबों के बैंक खाते में डाइरैक्ट कैश भी ट्रांसफर किए जाएंगे।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना – आवेदन / लाभार्थी चयन

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना 2020 किस तरह से लागू की जायेगी अथवा इसका कार्यान्वन कैसे किया जाएगा इस बारे में अभी तक किसी प्रकार की उचित जानकारी उपलब्ध नहीं है। इस बारे में अभी तक कुछ भी साफ़ नहीं है कि इस नयी गरीब कल्याण अन्न योजना के लिए लाभार्थियों का चयन किस प्रकार किया जाएगा। हो सकता है कि लाभार्थियों का चयन SECC-2011 डाटा के आधार पर किया जाए या फिर उज्ज्वला योजना के सभी लाभार्थियों को भी इस योजना का लाभ मिल सकता है। इस नयी गरीब कल्याण योजना के बारे में कोई जानकारी मिलती है हम तुरंत ही इस पेज पर अपडेट करेंगे।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना – इंश्योरेंस कवर

वित्त मंत्री ने इसके अलावा कोरोना वायरस से लड़ने सभी लोगों जो चिकित्सा के क्षेत्र में किसी भी पद पर कार्यरत है उन्हें 50 लाख रुपये का इंश्योरेंस कवर देने की घोषणा भी कर दी है। इस योजना से 20 लाख कर्मचारियों को सीधा लाभ पहुंचेगा। इनमें आशा वर्कर्स, डॉक्टर और उनकी सहायक टीम, नर्स और अन्य मेडिकल स्टॉफ शामिल होंगे।

दिव्यांगों के लिए 1000 रुपये अतिरिक्त पेंशन

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने संबोधित करते हुए कहा कि बुजुर्ग, विधवा और दिव्यांगों के लिए 1000 रुपये अतिरिक्त दिए जाएंगे। ये अगले तीन महीने के लिए होंगे इसे दो किस्त में दिया जाएगा। इस वर्ग के लोगों को डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर के माध्यम से पैसे ट्रान्सफर किए जाएंगे। इस पहल से लगभग 3 करोड़ लोगों को लाभ मिलेगा।

दीनदयाल योजना महिला स्वयं सहायता समूह को 20 लाख का लोन

दीनदयाल योजना में जिन भी महिला स्वयं सहायता समूह की महिलाओं ने पंजीकरण कराया हुआ है उन्हे अब 20 लाख तक का लोन दिया जाएगा। पहले इस योजना के तहत इनको 10 लाख रूपये तक का लोन दिया जाता था। अगले तीन महीने तक महिला जनधन खाताधारकों को प्रति माह 500 रुपये दिए जाएंगे। वित्त मंत्री ने कहा कि इससे लगभग 20 करोड़ महिलाओं लो सीधा लाभ मिलेगा।

मुफ्त सिलिंडर देने की घोषणा

पीएम उज्ज्वला योजना के तहत 8 करोड़ महिला लाभार्थियों को इसमें सीधा लाभ दिया जाएगा जैसे की आगामी तीन महीने तक फ्री गैस सिलिंडर दिए जाएंगे। मनरेगा के मजदूरों की दिहाड़ी जो पहले 182 रुपये प्रतिदिन थी उसे भी अब बढ़ाकर 202 रुपये कर दिया गया है।

तीन महीने तक EPF सरकार भरेगी

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के अंतर्गत ईपीएफ कंट्रीब्यूशन का भुगतान केंद्र सरकार करेगी। वित्त मंत्री ने कहा सरकार पीएफ कंट्रीब्यूशन कंपनी की 12 प्रतिशत और कर्मचारी की 12 प्रतिशत यानी 24 फीसदी सरकार अदा करेगी। अगले तीन महीने तक EPF सरकार भरेगी। इसका लाभ सभी उन कंपनी को मिलेगा जिनमें 100 या इससे अधिक कर्मचारी हैं। 15 हजार रुपये से कम वेतन पाने वाले कर्मचारियों को भी लाभ पहुंचाये जाएंगे।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना – कुछ सामान्य प्रश्न

PGKY के तहत कौन कौन शामिल है?
इस योजना के तहत वो सभी लोग शामिल हैं जो बीपीएल श्रेणी से सम्बन्ध रखते हैं या जिनकी वार्षिक आय बहुत ही कम है जैसे कि दिहाड़ी मजदूर, जन धन योजना के सभी लाभार्थी इत्यादि।

PGKY के लिए आवेदन कैसे करें?
सरकार द्वारा दी गयी जानकारी के अनुसार इस योजना का लाभ लेने के लिए किसी प्रकार के आवेदन अथवा पंजीकरण की कोई जरूरत नहीं है।

PGKY 2020 आवेदन / रजिस्ट्रेशन / लिस्ट की जानकारी

गरीब कल्याण योजना की लाभार्थी सूची कैसे चेक करें?
गरीब कल्याण योजना की लाभार्थी सूची के लिए सरकार की तरफ से किसी प्रकार की कोई कोई जानकारी उपलब्ध नहीं है।

क्या अनाज और दालें बिलकुल मुफ्त में मिलेंगी और कितनी?
सरकार 3 महीने अथवा जून 2020 तक बिलकुल मुफ्त में हर महीने 5 किलो अनाज या चावल और 1 किलो दाल मुहैया करवाएगी और उसके पश्चात बहुत ही कम रेट पर अनाज, चावल और दालें मिलेंगी।

क्या नरेगा कर्मियों के लिए भी PGKY के तहत कुछ शामिल है?
जी हाँ, सरकार ने 1 अप्रैल 2020 से सभी नरेगा कर्मियों का दैनिक वेतन 20 रूपये बढाकर 202 रूपये कर दिया है।

महिलाओं के लिए इस योजना के क्या फायदे हैं?
सरकार ने अगले 3 महीने तक सभी महिला जन धन खाता धारकों को500 रूपये उनके खाते में जमा करवाने का निर्णय लिया है।